राजस्थान में हो रही बलात्कार की घटनाओं पर क्यों चुप्पी साध लेती है कांग्रेस

by shubham
Published: Last Updated on

तेजी से बढ़ रही बलात्कार की घटनाओं को लेकर महिलाओं के सुरक्षा पर सवालिया निशान खड़ा होता है। उत्तर प्रदेश हो या राजस्थान कहीं भी महिलाएं सुरक्षित नहीं है। समाज के दुश्मन मासूम बच्चियों को भी नही छोड़ रहे। लेकिन सियासी दल इस समय भी अपनी रोटियां सेकने में लगे हुए हैं।

उत्तर प्रदेश में हाथरस में हुए जघन्य अपराध को लेकर पूरे देश की जनता में आक्रोश है लेकिन क्या लोगों को बाकी जगह हो रही घटनाएं दिखाई नहीं दे रही। वहीं इस परिस्थितियों में राजनीतिक दल अपनी अपनी रोटियां सेकने में लगे हुए हैं और जनता को झूठा भरोसा दिलाना चाहते हैं की वह है आखिरकार लोगों की कितना भला सोचते हैं।

आज राहुल गांधी व प्रियंका गांधी को हाथरस जाते समय रोक लिया गया। आपको बता दें की बहन भाई की यह जोड़ी हाथरस में पीड़ित परिवार से मिलने के लिए जा रहे थे. इसी दौरान यूपी के ग्रेटर नोएडा एक्प्रेस वे पर कांग्रेस नेता को यूपी पुलिस ने रोक दिया.

एक ही मुद्दे पर दोहरा रवैया क्यों

वहीं राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि यूपी में जंगलराज है। राहुल गांधी ने यह तो ट्वीट कर दिया कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज है चलिए मानते हैं कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज है लेकिन राहुल गांधी जी एक बार राजस्थान में तो देख लीजिए वहां किसका सा राज्य है। राजस्थान के बारां में दो बहनों के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है।

वही राजस्थान के मुख्यमंत्री ट्वीट करके कह रहे हैं कि युवती अपने मन से लड़कों के साथ गई थी। खैर यह तो जांच का विषय है |

जांच के बाद ही खुलासा हो पाएगा कि क्या सही है और क्या झूठ। लेकिन अगर कांग्रेसियों को उत्तर प्रदेश में जंगलराज दिखाई दे रहा है और यहां हमदर्दी दिखाने की कोशिश कर रहे हैं तो यह हमदर्दी आप राजस्थान में क्यों नहीं दिखाते क्या वहां आपका सिग्नल कैच नहीं करता या आप राजस्थान में सहानुभूति दिखाना नहीं चाहते।

रिपोर्ट :-
वैभव तिवारी (नेशनल ब्यूरो हेड)

Related Posts