शौच को गई महिला की चापड़ मारकर हत्या

by vaibhav

कौशांबी:- सरायअकिल क्षेत्र के चौपुरवा गांव में सोमवार सुबह शौच को गई महिला की उसके गांव के ही सिरफिरे युवक ने चापड़ मारकर हत्या कर दिया।हत्या के बाद हाथ में चापड़ लेकर भाग रहे हत्यारोपी को ग्रामीणों ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

चौपुरवा गांव निवासी सुरेश कुमार पुत्र चुनकू कपड़ों की फेरी लगाकर परिवार का भरण-पोषण करता था।दो साल पहले लकवा बीमारी से ग्रसित हो जाने के कारण इन दिनों वह बिस्तर पर पड़ा है। ऐसे में पत्नी शिवकुमारी(42वर्ष) ही सरायअकिल कस्बे व क्षेत्र के गांवों में भीख मांग कर परिवार चलाती हैं। ग्रामीणों के अनुसार सोमवार सुबह पांच बजे शिवकुमारी शौच के लिए खेतों की ओर जा रही थी।इसी बीच गांव के सिरफिरे युवक अशोक कुमार पुत्र चुनकू ने उसके गर्दन पर पीछे से ताबड़तोड़ चापड़ से तीन चार बार वार कर दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। शिवकुमारी की चीख-पुकार सुनकर जब तक ग्रामीण उसे बचाने मौके पर पंहुचे तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।हत्या करने के बाद सिरफिरा हत्यारोपी हाथ में चापड़ लेकर भागने लगा जिसे ग्रामीणों ने दौड़ाकर पकड़ लिया और पुलिस को सूचना दिया। मौके पर पंहुची पुलिस ने हत्यारोपी युवक को आलाकत्ल समेत हिरासत में लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।हत्या के बारे में ग्रामीणों ने तमाम तरह की चर्चाएं हैं कुछ लोगों का कहना है कि अशोक मानसिक रूप से विक्षिप्त था तो कुछ लोगों का कहना है कि शिवकुमारी को अकेली पाकर उसने छेड़खानी का प्रयास किया और विरोध करने पर उसकी हत्या कर दिया। मृतक शिवकुमारी के तीन बेटियां रुबी (24),गुल्लन ( 22), सोनाली (10)व दो बेटे पंकज (18),रवि (14) हैं, जिसमें बेटी रुबी की शादी के बाद मौत हो चुकी है।

सिरफिरा हत्यारोपी अशोक अपने पत्नी की हत्या में जा चुका है जेल

ग्रामीणों के अनुसार अशोक गांवों में फेरी लगाकर सिलबट्टा को टांकने का काम करता था।15 साल पहले उसने अपनी पत्नी सुनीता को भी सनक में आकर चाकू मारकर हत्या कर दिया था जिससे आरोप में दो साल तक जेल में बंद था। अशोक का एक बेटा अजीत कुमार (16वर्ष) है जो अपने चाचा अमित व दादी के साथ रहता है।

एक महीने पहले भी हत्यारोपी मृतका के साथ कर चुका है छेड़छाड़ का प्रयास

ग्रामीणों ने बताया कि हत्यारोपी अशोक पत्नी की मौत के बाद दूसरों की बहू बेटियों पर गंदी निगाह रखता था।एक महीने पहले भी उसने मृतक शिवकुमारी के साथ छेड़खानी किया था लेकिन ग्रामीणों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत करवा दिया गया था।

राशन कार्ड के अलावा नहीं मिला है अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ मृतका के पति सुरेश के मुताबिक राशनकार्ड के अलावा उसे आवास, शौचालय समेत अन्य किसी भी सरकारी योजनाओं का लाभ आज तक नहीं मिला। ऐसे में भीख मांग कर परिवार चलाने के अलावा कोई और रास्ता नहीं बचा है।

रिपोर्ट श्रीकान्त यादव

Related Posts