logo
सामने आया कोरोना का IHU Variant, फ्रांस में सामने आये 12 मामले
 

वर्ष 2019 में चीन के वुहान में पहली बार सामने आया कोरोना वायरस या कोविड—19 रंग रूप बदलने में गिरगिट को तो मात दे ही चुका है, अब यह किसी सॉफ्टवेयर की तरह हर नियमित की अंतराल पर अपने वैरिएंट बदल कर दुनिया की नींद तबाह कर चुका है। फिलहाल दुनिया के लिए अभी कोविड—19 का ओमीक्रोम वैरिएंट चिंता का विषय बना हुआ है। लेकिन फ्रांस में एक और वैरिएंट सामने आया है, जो संभवत: दुनिया में अगली कोरोना की लहर आने का कारण बन सकता है। 

वैज्ञानिकों ने कोरोना के IHU Variant का पता लगाया है। अभी तक की जानकारी के अनुसार IHU Variant 46 बार अपना रूप बदल चुका है। वैज्ञानिकों का मानना है कि  IHU Variant मूल कोरोना वायरस की तुलना में ज्यादा तेजी से फैलता है। वहीं इस पर वैक्सीन का भी असर कम होगा। 

इंग्लैंड के दैनिक अखबार डेली मेल की खबर के मुताबिक यह  IHU Variant फ्रांस के मरसैल (IHU Variant in Marseille) में पहली बार सामने आया है। हालांकि फ्रांस में अभी निकल रहे दैनिक कोविड मामलों में लगभग 60 प्रतिशत मामले ओमी​क्रोम वैरिएंट के है, जबकि IHU Variant के अभी तक कुल 12 मामले मरसैल में ही सामने आये है। हालांकि IHU Variant अभी सिर्फ फ्रांस में ही सीमित स्थानोें पर है, लेकिन अगर यह बाकी दुनिया के अन्य हिस्सों में फैलता है तो यह कितना संक्रामक होगा इस बात पर अभी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोई भी टिप्पणी नहीं की है।

Hindi News ( हिंदी समाचार ) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें व टेलीग्राम ग्रुप को जॉइन करने के लिए  यहां क्लिक करें।