लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले संभवत: आखिरी मंत्रिमंडल विस्तार में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपनी कैबिनेट में क्षेत्र और जातिगत समीकरण साधते हुये सात नये मंत्रियों को शामिल किया।

राजभवन के गांधी सभागार में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल में नये मंत्रियों को शपथ दिलायी। नये मंत्रियों में जितिन प्रसाद जितिन प्रसाद (ब्राह्मण) को कैबिनेट में जगह दी गयी है जबकि संगीता बलवंत बिंद (ओबीसी), धर्मवीर प्रजापति (अन्य पिछड़ा वर्ग), पलटूराम (अनुसूचित जाति),छत्रपाल गंगवार (ओबीसी),दिनेश खटिक (दलित) और संजय गौड़ (अनुसूचित जनजाति) को राज्यमंत्री के तौर पर योगी की टीम में शामिल किया गया है।

श्री जितिन प्रसाद पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शहाजहांपुर से ताल्लुक रखते है,इसके अलावा धर्मवीर प्रजापति आगरा, छत्रपाल गंगवार बरेली,दिनेश खटिक मेरठ से हैं। पूर्वी उत्तर प्रदेश से आने वाले मंत्रियों में पलटूराम बलरामपुर,संगीता बलवंत बिंद गाजीपुर और संजय गौड़ सोनभद्र से आते हैं।

समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा उनके मंत्रिमंडल के कई अन्य सहयोगी मौजूद थे। योगी मंत्रिमंडल में अभी 53 मंत्री है जबकि सात नये मंत्रियों के शामिल होने से मंत्रिमंडल के लिये निर्धारित कोटा 60 का आंकड़ा पूरा हो गया है।

यूपी में विधानसभा चुनाव के लिये अभी नौ महीने का समय शेष है लेकिन नये मंत्रियों के लिये प्रतिभा दर्शाने के लिये संभवत: सिर्फ छह महीने मिलेंगे क्योंकि तीन महीने पहले आदर्श चुनाव संहिता लागू होने से उनके लिये करने के लिये कुछ रह नहीं जायेगा।