दिल्ली :: देश की राजधानी दिल्ली में मौजूद युवा लेखकों का पसंदीदा मंच ‘द सोशल टेप’ ने अपने हाल ही के कार्यक्रम में युवा लेखकों और कवियों को प्रोत्साहित करने के लिए एक प्रतियोगिता जिसका नाम है “ India’s Top 100 Authors Award 2021” की घोषणा की है। इस प्रतियोगिता को आयोजित करने के पीछे “ द सोशल टेप का केवल एक ही मकसद युवा लेखको को एक पहचान और सम्मान देना ही है। the Social tape की ये प्रतियोगिता युवाओं में उत्साह के साथ-साथ उनके भीतर के आत्मविश्वास को भी नई ऊर्जा प्रदान करेगी।

इंडिया टॉप १०० ऑथर अवार्ड अभी तक जिन लेखकों को मिला उनके से एक वाणी विघमल का कहना है लिखना मेरे लिए हमेशा से ही सुकून का स्त्रोत रहा। मन के विचारो को भावनाओं को सिर्फ इसके द्वारा ही समक्ष रख पाती हूं। कब रोज़ का हाल लिखते — लिखते कविताएं, कहानियां बनने लगी मैं खुद भी नही जानती।

ऐसी ही एक कहानी है द अनटोल्ड लव जिसे मैंने सिर्फ लिखा नहीं है बल्कि जिया भी है। यह कहानी है ख्वाबों को , हौसलों की, हिम्मत की, साथ की, प्यार की। इस कहानी में भी एक लड़का है और एक लड़की और उनके बीच की खामोशियां और मजबूरियां। वह एक दूसरे से बिल्कुल अलग थे पर कुछ था जिसने जोड़ा था उन्हे साथ।

अपने ख्वाबों को पूरा करने में वह लगे रहे और इसी बीच उनके बीच प्यार पनपा पर आसानी से जो मिल जाए उसकी कदर कहां हो पाती है। वह अपने जज्बातों को कभी बता नहीं पाए पर हां कभी एक दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। अंजान बन कर भी वह बेहतर जानते थे एक दूसरे को। और इसी बीच जिंदगी ने अपना रूख बदला फिर कुछ ऐसा हुआ कि वो बिछड़ गए। पर वो एहसास न कम हुआ और इंतजार बढ़ने लगा।

इन्ही जज्बातों की, एहसासों की, अनकहे इज़हार की, इंतजार की कहानी है द अनटोल्ड लव। वाणी विघमल गुड़गांव में पली बढ़ी है। लिखना उनके लिए एक तपस्या है जो उनके दिमाग को शांत रखता है और दिल को मज़बूत। शब्दों से और कलम से अलग ही लगाव है। जीवन में ऐसा क्षण था जिसने उन्हें पूरी तरह तोड़ दिया था तब लिखने से ही वह संभल पाई। करीब डेढ़ साल से वो इस सफर में है और सीखते सीखते आगे बढ़ रही है।

पंजीकरण प्रक्रिया :
– द सोशल टेप की इस प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए लेखक या कवि अपना पंजीकरण खुद कर सकते है।
– पंजीकरण के लिए एक गूगल फॉर्म भरना होगा।
– पंजीकरण एवं नामांकन की प्रक्रिया मुफ्त में उपलब्ध है। आपको इसके लिए पैसे नहीं देने है।
– जिन 100 लेखकों को चयनित किया जाएगा उन्हें 2500 रुपये की न्यूनतम राशि जमा करनी होगी ताकि उनकी लिखी हुई किताबों का सोशल मीडिया पर प्रचार सुचारु रूप से हो सके।

प्रतियोगियो को अपने कार्य की प्रतिलिपि को गूगल फॉर्म में अपलोड करना होगा, जैसे लिखी किताब या रचना। अगर आप भी इस प्रतियोगिता में भाग लेना चाहते हैं तो @thesocialtape के इंस्टाग्राम हैंडल पर जा कर उनसे संपर्क करे या फिर इस न. 9868448843 पर वॉट्सएप करके संपर्क करे।
द सोशल टेप का ये प्रयास 100 उभरते लेखकों को एक नई दिशा का एक सुलभ एवं सरल माध्यम है। आशा है कि ये मंच अच्छे साहित्य का भी प्रतिबिम्ब अवश्य बनेगा।