धवा(जोधपुर)। नवसृजित पंचायत समिति धवा में जिला कलेक्टर इंदरजीत सिंह रविवार को राजकीय चिकित्सालय का औचक निरीक्षण करने पहुंचे तो अस्पताल में हड़कंप सा मच गया.जिला कलेक्टर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण कर साथ ही वहां की व्यवस्थाओं को लेकर जायजा लिया। ग्रामीणों ने बताया कि पिछले कई दिनों से हॉस्पिटल में 2:00 बजे के बाद एक भी डॉक्टर या मौजूद नहीं रहते हैं जिससे यहाँ पर डिलीवरी के लिए आने वाले मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा था ।मरीजों आए दिन आ रही समस्या को लेकर धवा अस्पताल में व्यवस्था नहीं होने के कारण झवर जाना पड़ता है जिसके चलते ग्रामीणों द्वारा मिली शिकायत जोधपुर जिला कलेक्टर को शिकायत मिलने के बाद अचानक धवा अस्पताल का औचक निरीक्षण किया निरीक्षण में स्वास्थ्य जल्द सुधारने की बात कही ।

उसी के चलते आज जिला कलेक्टर ने अस्पताल का निरीक्षण कियाअस्पताल में हालात सुधरे या नहीं जिला कलेक्टर को अस्पताल में पहले के बजाय आज काफी व्यवस्थाएं दुरुस्त मिली. हालांकि, गंदगी और स्टाफ की समस्या उनके सामने आई. कलेक्टर ने पीएमओ को निर्देश दिए हैं कि अस्पताल को पूरी तरह से स्वच्छ रखा जाए. साथ ही आपातकालीन मरीजों की आ रही समस्या को लेकर व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए। इसी दौरान उन्होंने ने जोजरी नदी का जायजा भी लिया। वहीं ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर को जोजरी नदी से दूषित पानी को रोकने के लिए और किसानों के खेतों में जोजरी का गंदा पानी खेतों में आने से किसानों की कई बीघा जमीन पूरी तरह से बंजर हो गई है जिसके चलते ना तो रबि की फसल बो सकते हैं ना ही खरीफ की फसल जिसको लेकर ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर को अवगत कराया जिला कलेक्टर ने ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए जल्दी दूषित पानी को रोकने के लिए प्रयास करेंगे साथ ही किसानों की जमीन को गंदे पानी से मुक्त करेंगे इसी दौरान उनके साथ विकास अधिकारी लुणी ,लूणी तहसीलदार , धवा सरपंच सरोज, व धवा पटवारी , मुलाराम ढाका, वार्ड पंच अमीन खान ,समाजसेवी भलाराम गोदारा,औमाराम पटेल ,गोविंद पेशवा आदि जनप्रतिनिधि मौजूद रहे ।

रिपोर्ट : राजूराम पटेल